उपवास क्या है और उसके फायदे - हिंदी में..!

 

Hello Guys, स्वागत है आपका HindiMeLekh.Com परतो आज आप जानने वाले हो की उपवास के फायदे Fasting Benefits हिंदी में.

Guys काफी सारे लोग फास्टिंग करते है, मतलब उपवास करते है, लेकिन भारत के ज्यादातर लोग फास्टिंग को बोहोत महत्त्व देते है. जिससे उन्हें बोहोत फायदा मिलता है. तो आज हम जानने वाले है की, जो लोग हफ्ते में 1-2 बार उपवास रखते है, या उपवास करना चाहते है लेकिन कर नहीं पाते है. तो इसी के बारे में पूरी जानकारी हम इस लेख में जानने वाले है.


उपवास के फायदे क्या है



 

अनुक्रमणिका :

  • उपवास क्या है
  • उपवास के फायदे
  • कई बीमारियों से बच सकते है
  • उपवास कैसे करे
  • Fasting Quotes
  • आज आपने क्या सिखा?


उपवास क्या है  

Fasting यानि उपवास इसका मतलब है की, किसी Specific टाइम के लिए भोजन को छोड़ना. ये एक बोहोत हि Effective और आसान तरीका है अपने पेट को साफ रखने के लिए और बिमारयो से छुटकारा पाने के लिए, और इसे सदियो से इस्तेमाल किया जा रहा है. Mostly सभी धर्मो में फास्टिंग को ज्यादा Importance दिया गया है, प्राचीन काल में बीमारियों को ठीक करने के लिए उपवास का हि सहारा लिया जाता था.


उपवास के फायदे

किसी भी बीमारी को ठीक करने के लिए फास्टिंग को हि दावा समजा जाता था. ऐसा इसलिए क्योकि हमारे body के अन्दर हि एक natural healing force होता है, जो हमें बीमारियों से ठीक होने में मदत करता है.

उपवास से पाचन क्रिया में सुधार 

जब हम उपवास करते है तब हमारा Diagestive system जो की लगातार काम करते रहता है उसे आराम मिल जाता है, और हमारे body organs को अच्छा खासा टाइम मिल जाता है, उन्हें ठीक होने के लिए और damage cells को repair होंने के लिए.

बीमार होने पर अगर हम थोड़े समय के लिए भूखे रह लेते है, तो ये किसी भी दवाई से बढ़िया काम  करता है. जब हम कुछ खाते है, तब हमारे body की सारी energy उसे diagest करने में लग जाती है. लेकिन जब हम फास्टिंग करते है तब वही energy हमारे body सिस्टम को ठीक करने में लगती है, फास्टिंग से इन्सान की ठीक होने की स्पीड बढ़ जाती है, body की अंदर से क्लीनिंग होती है और blood purify होता है.


उपवास से विशैले पदार्थ बाहर निकलते है 

mostly बीमारियों का कारन हमारे शारीर में विशैले पदार्थो का मौजूद होना है. जो की भोजन, हवा, पानी के Through हमारे अन्दर जाते है. बोहोत से लोग जरुरत से कई अधिक खा लेते है. लेकिन हमारा शारीर जितनी उसे जरुरत होती है, उतना वो Absorb कर लेता है और बाकि बचा Fatt में Convert होता है और Body में  जमा हो कर वजन को बढ़ाते रहता है.

 

और कुछ Undiagested Food body के अन्दर सड़ता रहता है और वह food poisonus हो जाता है, जिससे हमारा body सिस्टम गड़बड़ा जाता है. और इसे समय रहते न रोका जाये, तो हमारी body बीमारियों का घर बनके रह जाती है. अधिक Fatt के कारण blood वेसल्स block होने लगती है और शारीर में दर्द, सुजन, vomatting, diarea, high blood pessure, high colastrol, hiper acidity, Diabities, यहा तक की Cancer तक का रिस्क बढ़ जाता है.

 

ऐसी situation से बचने के लिए उपवास एक बढ़िया तरीका है, जो हमारे शारीर के सिस्टम को Rest दे कर उसे naturally ठीक करता है. जब हम उपवास करते है तब हमारा body सिस्टम अन्दर से विशैले पदार्थो को निकालने में लग जाता है, जिससे body की सफाई होती है.

 

Body की energy जो भोजन को diagest करने में लगती है, लेकिन फास्टिंग पे वही energy body cells की Growth और Repair में लग जाती है. उसीके साथ हमारे दिमाग सेभी विशैले पदार्थ बाहर निकलते है, फास्टिंग के बाद body में energy बढ़ जाती है दिमाग फ्रेश होता है और वो तेजी से काम करता है.

फास्टिंग से शरीर में हल्कापण आता है confussions दूर होती है, स्ट्रेस कम होता है, और clarities बढाती है, immune सिस्टम strong होता है.


उपवास करके बीमारियों से बच सकते है

Mostly जब हम बीमार होते है तब हम खाना नहीं छोड़ते है ताकि weakness न आजाये, लेकिन ऐसी-ऐसी चीजे खा लेते है जिससे बीमारी और बढ़ जाती है. अगर आप normal life lead कर रहे हो कोई पहलेसे बीमारी नहीं है जिसका tritment चल रहा हो, तो फिर छोटी-मोटी बीमारियों को आप बिना कोई मेडिसिन लिए उपवास करके हि ठीक कर सकते हो.


और अगर कोई बीमारी न भी हो तो उपवास करके आप अपने आपको healthy रख सकते हो, और खुद को बीमारियों से काफी हद तक बचा सकते हो.

फास्टिंग यानि उपवास आपकी आयु को लम्बा करता है और आपकी ageing proccess को slow  करता है, आप और strong होते हो शायद इसीलिए इसे spirituals के साथ जोड़ा गया है ताकि लोग campalsory उपवास करे.


उपवास कैसे करे 

फास्टिंग का सिस्टम तब ख़राब होता है जब लोग उपवास तो रख लेते है लेकिन उसे तोड़ने के बाद सबकुछ double amount में खा लेते है जिससे फायदा होने के बजाये नुकसान हो जाता है.


फास्टिंग को अछेसे समजना बोहोत जरुरी है, अगर हम फ़ास्ट कर रहे है हमारे diagestive system को rest देने के लिए और फ़ास्ट के बाद अगर हम over eating करलेंगे तो हमने digestive systeam को over load कर लिया, किसी भी चीज का एकदम से हमारी body को कोई फायदा नहीं होता.

 

नवरात्री में लोग कहने को पूरी नवरात्र उपवास रखते है लेकिन उस दौरान इतना कुछ खा लेते है, की fast का मतलब हि नहीं बनता. तो अगर आपने कभी fast नहीं रखा तो पहले एक दिन से शुरू करे, अपने आप को liquid diet पे रखे पानी पे जोर दे test change करने के लिए आप पानी में honey और lamon add कर सकते है इससे टेस्ट भी अच्छा होंगा और energy भी बरकरार रहेंगी.

 

भूख लगने पर अगर आप पानी पि लेंगे तो आपकी भूख शांत हो जाएँगी, पहले एक दो बार आपको भूक की feeling या सर दर्द हो सकता है लेकिन जब fasting के लिए mind set हो जायेंगा तो फिर कोई परेशानी नहीं होंगी लेकिन इसके benifits कमाल के होंगे.

 

 इसी तरह आप एक से दो दिन और दो से तिन दिन करके फिर धीरे-धीरे बाढा सकते है, लेकिन 7 days से अधिक नहीं होना चाहिए. दूसरी बार आप केवल पानी न लेकर fresh fruits और vegetables का जूस ले सकते है, इनमे पाए जाने वाले vitamines, minirals, और tress eliments ये सभ body systeam को normal कर waste और विशैले पदार्थो को बाहर निकालने में मदद करेंगे और किसीभी बीमारी की condition में quick recovary होंगी. 

और हा सबसे जरुरी बात जब भी आप juice निकालते हो तो आप juice जैसे हि निकाले तो उसे उसी समय cunsume करे ताकी पूरा फायदा हों.


Over weight persons को तो week में दो-तिन बार fasting करनी चाहिए, lemon water और juices आपको परेशानी नहीं होने देंगे. weight loss के साथ-साथ आपको और भी health benefits मिलेंगे जब आपकी feeling अच्छी होंगी आप light महसूस करेंगे तो कम खाना और nutritious खाना आपकी life style का part बन जायेंगा, लेकिन हा एक बार तो पक्के इरादे से ये step लेना हि होंगा.

 

जो लोग बीमार होते है उन्हें अंदर से भूख नहीं लगती, लेकिन हम लोग उन्हें जबरदस्ती खिलाने की कोशिश करते है जो की गलत है, अगर उन्हें भूख नहीं है तो उन्हें खाने के लिए मजबूर मत करे, लेकीन weekness ना हो जाये उसके लिए आप उन्हें निब्बू पानी और juices दे सकते है इससे उनकी cumpalsary fasting  हो जाएँगी और recovary भी जल्दी.

 

खाने के लिए तभी दे जब उन्हें भूख लगे वो भी हल्का फुल्का जो आसानी से digust हो जाये. हा अगर दो तिन दिन भूख नही लगती तो डॉक्टर से cunsult जरुर करे. लम्बे समय तक फ़ास्ट रखने का एक बोहोत बड़ा फायदा ये भी है के जब energy के लिए भोजन द्वारा protine और fatt body के अंदर नहीं जाता तो वो body tisues को burn करती है energy produce करने के लिए यानि body के अंदर stored fatt को burn करती है.

 

सबसे पहले तो वो ख़राब Aged और Dead cells को burn करती है जिससे body को  dead cells से छुटका मिलता है और नए cells की growth अच्छी होती है, जिससे over all body को फायदा होता है. ऐसे में एक बोहोत बड़ा फायदा ये भी है की stored fatt जो हमारे शारीर में होता है वो burn हो जाता है और weight loss में फायदा होता है.


जब आप उपवास को तोड़ते है तब इस बात का खास ध्यान रखे की एकदम से heavy food नहीं खाना है धीरे-धीरे अपनी diet में solid foods को add करे और दो-तिन दिन के बाद अपनी normal diet ले over eating नहीं करनी है, खाने को चबा-चबा करके खाना है, जल्दी-जल्दी नहीं निगलना तभी आप फास्टिंग के पुरे फायदे ले सकोंगे.

जो लोग लम्बे समय तक उपवास नहीं रख सकते वो हफ्ते में 1-2 दिन का plan तो कर हि सकते है.


तो guys ये थे Fasting यानि उपवास के गुणकारी फायदे और में recommend करूँगा की atleast हफ्ते में 1-2 बार उपवास जरुर करे जिससे आपके शारीर में काफी सरे सुधार होंगे और आप healthy रह सकोंगे. तो आप इसे try करे और body के natural healing force को भी अपना कम करने दे.

इसे भी पढ़े :

👉 Weight Loss Diet Plan वजन घटाने के 5 आसान उपाय

👉फल खाने का सही तरीका क्या है – पूरी जानकारी हिंदी में..🍉🍍

Fasting Quotes

 

दवाई खाने से बढ़िया है की आज उपवास रखो

 

“The best of all medicins is the Resting and Fasting”

 

किसी भी छोटी-मोटी बीमारी में थोडा सा भूखे रह लेना किसी भी बढ़िया दवाई और डॉक्टर से अच्छा काम कर सकता है

 

उपवास हरकोई रख सकता है लेकिन एक बिद्धिमान इन्सान हि जानता है की उसे तोडना कैसे है



आज आपने क्या सिखा?

 तो आज हमने इस complete article में जाना है की, उपवास के फायदे हिंदी में, What is The Benifit of Fasting. तो आशा करते है की आपको इस लेख के द्वारा काफी मदद मिली होंगी और आपके समस्या का समाधान हुआ होंगा.

 

हमारी हमेशा यह कोशिश रहती है की reders को किसी भी पोस्ट के बारे में जैसे की यह पोस्ट what is Fasting in hindi, उपवास क्या है हिंदी में, ऐसे विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे site या internet पर उस article को खोजने की जरुरत ना पड़े.

 

इससे reders का समय भी बचेंगा और एक हि जगह पर सभी तरह की information भी मिल जाएँगी. अगर आपका कोई सवाल है तो आप हमें comment box में पूछ सकते है, और इसी तरह के helpful articles पढने के लिए आप हमारी site Hindimelekh.com को Login कर सकते है. और साथ ही आप हमारी Website को Bookmark कर लीजिये, ताकि आपको हमें ढूंडने मे और हमें आपकी Help करने में आसानी हो.

 

अगर आपको यह post उपवास क्या है | Fasting Benefits पसंद आयी हो या कुछ सिखने मिला हो तो कृपया इस पोस्ट को Social Media जैसे की Whatsapp, facebook, Twitter, Telegram पर  share करिए.

और हमें आप social media पर Follow जरुर करे जहासे आपको Daily Updates मिलती रहेंगी.


और हमें आप social media पर Follow जरुर करे जहासे आपको Daily Updates मिलती रहेंगी. 


                                                     धन्यवाद ...!

 

Post a Comment

Previous Post Next Post